सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से व्याकरणीय पुरुष शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।
१. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / गुणधर्म

अर्थ : व्याकरण में सर्वनामों का वह भेद जिससे यह जाना जाता है कि सर्वनाम का प्रयोग वक्ता के लिए हुआ है या श्रोता या संबोध्य या किसी और के लिए।

उदाहरण : व्याकरण के अनुसार पुरुष तीन प्रकार के होते हैं।

पर्यायवाची : पुरुष

व्याकरणात वक्ता, श्रोता व उक्तविषय असे सृष्टव्यक्तीचे जे तीन प्रकार करतात ते.

प्रथम, द्वितीय व तृतीय असे तीन पुरुष आहेत
पुरुष
मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।