ट्विटर पर सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं

गजकर्ण (संज्ञा)

१. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पौराणिक जीव

अर्थ : एक असुर।

उदाहरण : गजकर्ण का वर्णन पुराणों में मिलता है।

२. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पौराणिक जीव

अर्थ : हिंदुओं के एक प्रधान एवं अग्रपूज्य देवता जिनका शरीर मनुष्य का और सिर हाथी का होता है।

उदाहरण : गणेश का वाहन मूषक है।

पर्यायवाची : अंबिकेय, अम्बिकेय, आंबिकेय, आखुवाहन, आम्बिकेय, इभानन, इरेश, एकदंत, एकदन्त, करिबदन, करिवदन, काममाली, गजमुख, गजवदन, गजशीश, गजानन, गणनाथ, गणनायक, गणपति, गणेश, गणेश्वर, गौरीज, द्विदेह, द्विपास्य, द्विमातुर, द्विमातृज, द्वैमातुर, नवनीत-गणप, नागमुख, पृथ्वीगर्भ, भालचंद्र, भालचन्द्र, मंगलारंभ, महागणपति, मूषकवाहन, लंबोदर, लम्बोदर, वक्रतुंड, वक्रतुण्ड, वज्रतुंड, वज्रतुण्ड, वारणानन, विघ्नजीत, विघ्ननायक, विघ्ननाशक, विघ्ननाशन, विघ्नपति, विघ्नराज, विघ्नविनायक, विघ्नेश, विघ्नेश्वर, विनायक, वृषकेतन, श्रीगणेश, सिंधुरवदन, सिन्धुरवदन, हरिहय, हेरंब, हेरम्ब, हेरांब, हेरुक

गजकर्ण के संभावित विलोम शब्द : इति, छोटा