सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से अजिर शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

अजिर (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / स्थान / भौतिक स्थान

अर्थ : घर के बीच का खुला भाग।

उदाहरण : बच्चे आँगन में खेल रहे हैं।

पर्यायवाची : अँगनई, अँगना, अँगनाई, अँगनैया, अंगन, अंगनई, अंगना, अंगनाई, अंगनैया, आँगन, आंगन, चौक, प्रांगण, सहन

चौसोपी वाड्यातील खुला, चौकोनी मध्यभाग.

मुले चौकात खेळत आहेत.
चौक
२. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु

अर्थ : प्रायः सर्वत्र चलता रहने वाला वह तत्व जो सारी पृथ्वी पर व्याप्त है और जिसमें प्राणी साँस लेते हैं।

उदाहरण : हवा के अभाव में जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती।

पर्यायवाची : अध्यर्ध, अनिल, आकाशचारी, आकाशवायु, आशर, आशुग, आशुशुक्षणि, ईरण, घनवाह, जगदायु, जगद्बल, तन्यतु, तलुन, तीव्रगात, धारावनि, धूलिध्वज, निघृष्व, पवन, पवमान, पृषदश्व, पौन, प्रजिन, प्राणंत, प्राणन्त, फणिप्रिय, बयार, बयारि, मरुत्, मृगवाहन, मेघारि, वहति, वायु, विधु, वृष्णि, शार, शीघ्रग, शीघ्रपाणि, संचारी, सञ्चारी, समीर, हवा

न दिसणारे परंतु स्पर्शास समजणारे पंचमहाभूतांतील एक तत्त्व.

वायू मंद वाहत होता.
अनिल, पवन, मरुत, मारुत, वात, वायू, वारा, समीर, समीरण, हवा
३. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पौराणिक जीव

अर्थ : हिन्दू धर्मग्रंथों में वर्णित एक देवता जो हवा के अधिपति माने जाते हैं।

उदाहरण : वेदों में भी पवनदेव के पूजन का विधान है।

पर्यायवाची : अध्यर्ध, अनिल, जगद्बल, दैत्यदेव, पवन, पवनदेव, पवनदेवता, पवमान, मरुत, मरुत्, वायु, वायुदेव, वायुदेवता, विधु, वृष्णि, हवा

हिंदू धर्मग्रंथांत वर्णिलेला एक देव ज्याला वायूचा अधिपती मानले जाते.

वेदांमध्ये देखील पवनदेवच्या पूजेचे विधान आहे.
पवनदेव, पवनदेवता, वायुदेव, वायुदेवता
४. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / शारीरिक वस्तु

अर्थ : किसी प्राणी के सब अंगों का समूह जो एक इकाई के रूप में हो।

उदाहरण : शरीर को स्वस्थ रखने के लिए व्यायाम करें।

पर्यायवाची : अंग, अवयवी, इंद्रियायतन, इन्द्रियायतन, कलेवर, काया, गात, चोला, जिस्म, तन, तनु, तनू, देह, धाम, पिंड, पिण्ड, पुद्गल, पुर, बदन, बॉडी, मर्त्य, योनि, रोगभू, वपु, वर्ष्म, वर्ष्मा, वेर, शरीर, सिन, स्कंध, स्कन्ध

सजीवांचे सर्व अवयव मिळून बनणारी रचना.

आपले शरीर पाच महाभूतांपासून बनलेले आहे.
अंग, काया, कुडी, कूड, देह, शरीर
५. संज्ञा / सजीव / जन्तु / उभयचर

अर्थ : एक छोटा बरसाती उभयचर प्राणी जो प्रायः वर्षा ऋतु में तालाबों, कुओं आदि में दिखाई देता है।

उदाहरण : बरसात के दिनों में मेंढक जगह-जगह कूदते नजर आते हैं।

पर्यायवाची : जिह्वमेहन, तरंत, तरन्त, तोय-सर्पिका, दर्दुर, दादुर, मंडूक, मण्डूक, मेंडक, मेंढक, मेडक, मेढक, वर्षाभू, वृष्टिभू, शल्ल, हरि

गोड्या पाण्यात राहणारा एक उभयचर प्राणी.

पावसळ्यात बेडकांचा जास्त आवाज येतो.
दर्दुर, बेडकी, बेडूक, मंडूक

Any of various tailless stout-bodied amphibians with long hind limbs for leaping. Semiaquatic and terrestrial species.

anuran, batrachian, frog, salientian, toad, toad frog
६. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / ज्ञान

अर्थ : वह जिसे इन्द्रियाँ ग्रहण करें।

उदाहरण : नेत्र का विषय रूप व कान का विषय शब्द है।

पर्यायवाची : अर्थ, इंद्रिय विषय, इंद्रियार्थ, इन्द्रिय विषय, इन्द्रियार्थ, पदार्थ, विषय, स्कंध, स्कन्ध

मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।