सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से क्षात्र शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

क्षात्र (संज्ञा)

१. संज्ञा / समूह

अर्थ : हिंदुओं के चार वर्णों में दूसरा जिस वर्ण के लोगों का काम देश पर शासन करना और शत्रुओं से उसकी रक्षा करना था।

उदाहरण : राम क्षत्रिय थे।

पर्यायवाची : क्षत्रिय, खत्रिय, खत्री, युधान, युयुधान, राजन्य, विराट्

चार वर्णातील दुसरा वर्ण यांचे काम शासन व युद्ध करणे होते.

शिवाजी महाराज क्षत्रिय होते
क्षत्र, क्षत्रिय

The second highest of the four varnas: the noble or warrior category.

rajanya
२. संज्ञा / सजीव / जन्तु / स्तनपायी / व्यक्ति

अर्थ : हिंदुओं के चार वर्णों में दूसरे वर्ण का व्यक्ति जिसका काम देश पर शासन करना और शत्रुओं से उसकी रक्षा करना था।

उदाहरण : कहा जाता है कि परशुराम ने क्षत्रियों को इक्कीस बार पृथ्वी से नष्ट कर दिया था।

पर्यायवाची : क्षत्रिय, खत्रिय, खत्री, युधान, युयुधान, राजन्य, विराट्

क्षात्र (विशेषण)

१. विशेषण / संबंधसूचक

अर्थ : क्षत्रिय का या क्षत्रिय संबंधी।

उदाहरण : राम क्षत्रिय वंश के थे।

पर्यायवाची : क्षत्रिय

क्षत्रियसंबंधी.

राम क्षात्र वंशाचे होते.
क्षात्र
मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।