सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से चैत्यतरु शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

चैत्यतरु (संज्ञा)

१. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / वृक्ष
२. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / वृक्ष

अर्थ : पच्चीस से तीस फुट ऊँचा एक सदाहरित पेड़ जिसकी पत्तियाँ आम की पत्तियों की तरह लंबी होती हैं।

उदाहरण : अशोक पूरे भारत में पाया जाता है।

पर्यायवाची : अशोक, अशोक वृक्ष, कामुक, केलिक, चैत्यद्रुम, चैत्यवृक्ष, तामृपवल्लव, ताम्रपल्लव, दोहली, पुष्पपिंड, पुष्पपिण्ड, मंजरीक, रक्तपल्लव, रागी, रोगितरु, शिंशपा, शिंशुपा, हेम पुष्प, हेमपुष्प

A tall perennial woody plant having a main trunk and branches forming a distinct elevated crown.

Includes both gymnosperms and angiosperms.
tree

चैत्यतरु के संभावित विलोम शब्द :- विरागी

मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।