सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से ठगी शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

ठगी (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / कार्य / असामाजिक कार्य

अर्थ : वह काम जो किसी को धोखे में डाल कर कोई स्वार्थ साधने के लिए किया जाए।

उदाहरण : उसने छल से पूरी जायदाद अपने नाम करा ली ।
वह अपने छल में कामयाब नहीं हुआ।

पर्यायवाची : अनभोरी, अनुपधा, अभिसंधान, अभिसन्धान, उपधा, कपट, काट, कारस्तानी, कारिस्तानी, कुमैड़, कूटता, कैतव, चार सौ बीसी, चालबाज़ी, चालबाजी, चालाकी, छल, छल-कपट, छल-छंद, छलावा, जालसाजी, जोग, झपकी, झाँई, झाँई-झप्पा, दुराव, धंधला, धूर्तता, धोखा, धोखाधड़ी, धोखेबाज़ी, धोखेबाजी, पटेबाज़ी, पटेबाजी, परपंच, परपञ्च, प्रतारणा, प्रपंच, प्रपञ्च, फरेब, फर्जीवाड़ा, फेर-फार, फेर-बदल, फेरफार, फ्राड, फ्रॉड, बकमौन, बकमौनता, मक्कारी, माल, योग, वंचकता, वंचना, व्याज, शठता

The act of deceiving.

deceit, deception, dissembling, dissimulation
२. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / कार्य

अर्थ : ठगने का काम।

उदाहरण : पुलिस ने रेलगाड़ी में ठगी करते हुए दो ठगों को पकड़ा।

पर्यायवाची : ठगई, ठगपन, ठगपना, ठगपनी, ठगहाई, ठगाई, ठगाही, प्रवंचना, प्रवञ्चना, व्यंसन

The use of tricks to deceive someone (usually to extract money from them).

chicane, chicanery, guile, shenanigan, trickery, wile

ठगी के संभावित विलोम शब्द :- निश्छल, निष्कपट, लगाव, वियोग

मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।