सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से तामरस शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

तामरस (संज्ञा)

१. संज्ञा / जातिवाचक संज्ञा
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : पानी में होने वाले एक पौधे का पुष्प जो बहुत ही सुन्दर होता है।

उदाहरण : सरोवर में कई रंगों के कमल खिले हुए हैं।
कमल से सरोवर की शोभा बढ़ जाती है।

पर्यायवाची : अंबुज, अंभोज, अब्ज, अम्बुज, अम्भोज, अरविंद, अरविन्द, अर्कबंधु, अर्कबन्धु, आस्यपत्र, इंदंबर, इंदीवर, इन्दम्बर, इन्दीवर, कँवल, कंज, कमल, कमलिनी, कुंद, कुन्द, जलरुह, जलेज, जलेजात, नलिन, नीरज, पंकज, पंकजन्मा, पंकजात, पद्म, पयोज, पर्णसि, पाथोज, पिंडपुष्प, पिण्डपुष्प, पुरइन, पुष्कर, प्रफुला, प्रफुल्ला, रवींद, रवीन्द, राजीव, वनरुह, वारिज, वारिरुह, शतदल, शतपत्र, शृंग, श्रीगेह, श्रीधाम, श्रीवास, श्रीवासक, सरोज, सलिलज

Reproductive organ of angiosperm plants especially one having showy or colorful parts.

bloom, blossom, flower
२. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / जलीय वनस्पति

अर्थ : जल में उत्पन्न होने वाला एक पौधा जो अपने सुन्दर फूलों के लिए प्रसिद्ध है।

उदाहरण : बच्चे खेल-खेल में सरोवर से कमल उखाड़ रहे हैं।

पर्यायवाची : अंज, अंबुज, अंभोज, अम्बुज, अम्भोज, अरविंद, अरविन्द, इंदंबर, इंदीवर, इन्दम्बर, इन्दीवर, कँवल, कमल, जलरुह, जलेज, जलेजात, नलिन, नीरज, पंकज, पंकजन्मा, पंकजात, पंकेज, पंकेरुह, पद्म, पयोज, पाथोज, पुरइन, पुष्कर, प्रफुला, प्रफुल्ला, रविनाथ, रवींद, रवीन्द, वारिज, वारिरुह, शतदल, शतपत्र, शशिपुष्प, शृंग, श्रीगेह, श्रीधाम, श्रीवास, श्रीवासक

सरोवराच्या चिखलात वाढणारी एक पाण वेल."तळ्यात कमळाला खूप फुले आली होती".

कमळ

Annual or perennial herbs or subshrubs.

genus lotus, lotus
३. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु

अर्थ : एक बहुमूल्य पीली धातु जिसके गहने आदि बनते हैं।

उदाहरण : आजकल सोने का भाव आसमान छू रहा है।
चैतन्य महापुरुष के शरीर से स्वर्ण जैसी आभा निकलती थी।

पर्यायवाची : अग्नि, अभ्र, अर्ह, अवष्टंभ, अवष्टम्भ, अश्मकर, अष्टापद, आग्नेय, कंचन, कञ्चन, कनक, कांचन, काञ्चन, गारुड़, गोल्ड, चामीकर, ज़र, तार्क्ष्य, त्रिनेत्र, दत्र, पुरुद, भद्र, मनोहर, मरुत्, रंजन, रञ्जन, रसविरोधक, वरवर्ण, वर्णि, वसु, शतकुंभ, शतकुम्भ, शतकौंभ, शतकौंभक, शतकौम्भ, शतकौम्भक, शतखंड, शतखण्ड, शातकुंभ, शातकुम्भ, शातकौंभ, शातकौम्भ, शुक्र, श्रीमत्कुंभ, श्रीमत्कुम्भ, सुवरन, सुवर्ण, सोना, स्वर्ण, हाटक, हिरण्य, हेम

पिवळ्या रंगाचा जड व मौल्यवान असा धातू.

राजाच्या खजिन्यात खूप सोने होते
कनक, कांचन, सुवर्ण, सोने, हेम
४. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / झाड़ी

अर्थ : एक पौधा जिसके फलों के बीज बहुत विषैले होते हैं।

उदाहरण : धतूरा भगवान शिव को प्रिय है।

पर्यायवाची : अष्टापद, कंचन, कनक, कितव, चामीकर, तीक्ष्णकंटक, तीक्ष्णकण्टक, तूल, धतूरा, धत्तूर, धूर्त, निस्त्रैणपुष्पिक, पुरीमोह, मंदार, मदनक, मन्दार, वृहत्पाटली, शंकरप्रिय, शातकुंभ, शातकुम्भ, शिवप्रिय, शिवशेखर, सुमन, सुवर्ण, स्वर्णफल, हिरण्य, हेमतरु

मादक व विषारी बी असणारे एक वनस्पती.

धतुर्‍याच फूल शिवाला वाहतात
धतुर, धतुरा, धोत्रा

Thorn apple.

datura, genus datura
५. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पक्षी

अर्थ : एक प्रकार का सुन्दर बड़ा पक्षी।

उदाहरण : सारस का प्रिय भोजन मछली है।

पर्यायवाची : अरविंद, अरविन्द, कामी, गोनर्द, दीर्घपाद, नलिन, नीलांग, पंकजन्मा, बग, बलाका, मणिभावर, रक्तनेत्र, रक्तशीषक, रक्ताक्ष, रसिक, शतपत्र, सरसीक, सरोत्सव, सारस

एक प्रकारचा पक्षी.

सारस मासे खातो
सारस

Large long-necked wading bird of marshes and plains in many parts of the world.

crane
६. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / कला
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / मानवकृति

अर्थ : एक वर्णवृत्त।

उदाहरण : तामरस के प्रत्येक चरण में एक नगण, दो जगण एवं एक यगण होता है।

एक वर्णवृत्त.

तामरसच्या प्रत्येक चरणात एक नगण, दो जगण तसेच एक यगण असते.
तामरस

(prosody) a system of versification.

poetic rhythm, prosody, rhythmic pattern
मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।