सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से दाव शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

दाव (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु

अर्थ : जलती हुई लकड़ी, कोयला या इसी प्रकार की और कोई वस्तु या उस वस्तु के जलने पर अंगारे या लपट के रूप में दिखाई देने वाला प्रकाशयुक्त ताप।

उदाहरण : आग में उसकी झोपड़ी जलकर राख हो गई।

पर्यायवाची : अगन, अगनी, अगिआ, अगिन, अगिया, अगिर, अग्नि, अनल, अनिलसखा, अमिताशन, अय, अर्क, अर्दनि, अशिर, आग, आगि, आगी, आज्यमुक, आतश, आतिश, आशर, आशुशुक्षणि, आश्रयास, कालकवि, चित्रभानु, जगन्नु, जल्ह, तनूनपात्, तनूनपाद्, तपु, तपुर्जंभ, तपुर्जम्भ, तमोनुद, तमोहपह, दाढ़ा, दाहक, द्यु, धरुण, ध्वांतशत्रु, ध्वांताराति, ध्वान्तशत्रु, ध्वान्ताराति, नीलपृष्ठ, परिजन्मा, पर्परीक, पवन-वाहन, पशुपति, पावक, बरही, बहनी, बाहुल, भारत, मलिनमुख, यविष्ठ, राजन्य, लघुलय, वर्हा, वसु, वसुनीथ, वह्नि, विंगेश, विश्वप्स, वृष्णि, वैश्वानर, शिखि, शिखी, शुक्र, शुचि, सोमगोपा, हुतासन, हृषु, हेमकेली

२. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / मानवकृति

अर्थ : एक प्रकार का प्राचीन हथियार या शस्त्र।

उदाहरण : इस संग्रहालय में दाव भी है।

३. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / वृक्ष

अर्थ : औषध के काम में आने वाला एक जंगली पेड़।

उदाहरण : धावरा लंबा और सुंदर होता है।

पर्यायवाची : ताम्रपुष्पी, दावी, धव, धवाई, धाइ, धाव, धावड़ा, धावरा, धुरंधर, धुरन्धर, धौ, नंदितरु, नंदी, नन्दितरु, नन्दी, शिवा, शुक्ल, शुक्लवृक्ष, सिंदूरी, सिन्दूरी, सीधुपुष्पी

४. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / बोध

अर्थ : जलने से होनेवाली पीड़ा या कष्ट।

उदाहरण : घी लगाने से जलन कुछ कम हो रही है।

पर्यायवाची : आग, आदहन, जलन, ताप, दहक, दाप, दाह, व्युष्टि

५. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / कार्य / शारीरिक कार्य

अर्थ : किसी विषय के ठीक होने के संबंध में दृढ़ता पूवर्क कुछ कहने का वह प्रकार जिसमें सत्य या असत्य सिद्ध होने पर हार-जीत व कुछ लेन-देन भी हो।

उदाहरण : राहुल शर्त जीत गया।

पर्यायवाची : दाँव, दांव, दावँ, बाज़ी, बाजी, शर्त, होड़

६. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु

अर्थ : वन में वृक्षों की रगड़ से आप-से-आप लगनेवाली आग।

उदाहरण : दावानल से पूरा जंगल जल गया।

पर्यायवाची : दमारि, दाढ़ा, दावा, दावाग्नि, दावानल

७. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / कला
    संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / कार्य / शारीरिक कार्य

अर्थ : कुश्ती में विपक्षी को हराने या दबाने के लिए काम में लाई जानेवाली युक्ति।

उदाहरण : उसने एक ही दाँव में मोटे पहलवान को चित्त कर दिया।

पर्यायवाची : चाल, दाँव, दांव, दावँ, पेंच, पेच

८. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / कार्य / शारीरिक कार्य

अर्थ : कोई कार्य करने या खेल खेलने का वह अवसर जो सब खिलाड़ियों को बारी-बारी से मिलता है।

उदाहरण : अब राम की पारी है।

पर्यायवाची : दाँव, दांव, दावँ, दौर, नंबर, नम्बर, पाण, पारी, बाज़ी, बाजी, बारी

९. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / मानवकृति

अर्थ : वह धन, वस्तु आदि जो पाँसे, जुए आदि खेलों के समय हार-जीत के लिए खिलाड़ी सामने रखते हैं।

उदाहरण : युधिष्ठिर ने पाँसे के खेल में द्रौपदी को दाँव पर लगाया था।

पर्यायवाची : आक्षिक, दाँव, दांव, दावँ, पण

१०. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / समय / अवधि

अर्थ : ऐसा समय या परिस्थिति जिसमें कोई कार्य या उद्देश्य सहजता से, जल्दी या सुविधा से हो सके।

उदाहरण : इस काम को करने का अवसर आ गया है।

पर्यायवाची : अवसर, औसर, काल, घड़ी, चांस, चान्स, जोग, दावँ, नौबत, बेला, मुहूर्त, मौक़ा, मौका, योग, वक़्त, वक्त, वेला, समय, समा, समाँ, समां

११. संज्ञा / सजीव / वनस्पति

अर्थ : काँस की तरह की एक घास जिसका उपयोग कुछ धार्मिक कृत्यों में होता है।

उदाहरण : हिंदू धार्मिक अनुष्ठानों में कुश की आवश्यकता पड़ती है।

पर्यायवाची : अर्भ, कुश, कुशा, चात्वाल, डाब, डाभ, दर्भ, दाभ, पवित्रक, पितृषदन, ब्रह्मपवित्र, वर्हा, शार

१२. संज्ञा / निर्जीव / स्थान
    संज्ञा / समूह

अर्थ : वह स्थान जहाँ बहुत दूर तक पेड़-पौधे, झाड़ियाँ आदि अपने आप उगी हों।

उदाहरण : पुरातन काल में ऋषि-मुनि जंगलों में निवास करते थे।

पर्यायवाची : अटवी, अरण्य, अरण्यक, अरन, अरन्य, आरन, उजाड़, उजार, कानन, जंगल, त्रस, द्रुमालय, बन, बयाबान, बियाबान, बियावान, माल, वन, वादी, विपिन, समज

१३. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / मानवकृति

अर्थ : एक प्रकार का चाकू जिसका अगला सिरा पिछले सिरे की अपेक्षा अधिक चौड़ा होता है।

उदाहरण : दाव बाँस, सब्ज़ी आदि काटने के काम आता है।

दाव के संभावित विलोम शब्द :- अशुचि, कृष्ण, जल, पानी, प्रतिवादी, मरु, मरुभूमि, वियोग, शीत

मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।