सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से दिव्यचक्षु शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

दिव्यचक्षु (संज्ञा)

१. संज्ञा / सजीव / जन्तु / स्तनपायी / व्यक्ति

अर्थ : वह जिसके पास दिव्य-दृष्टि हो।

उदाहरण : दिव्यचक्षु की भविष्य वाणी शत प्रतिशत सत्य हुई।

पर्यायवाची : दिव्य चक्षु, दिव्य-चक्षु

२. संज्ञा / सजीव / जन्तु / स्तनपायी

अर्थ : वृक्षों पर रहने वाला एक चंचल स्तनपायी चौपाया।

उदाहरण : भारत में बंदरों की कई जातियाँ पाई जाती हैं।

पर्यायवाची : कपि, कीश, तरुमृग, दिव्य चक्षु, दिव्य-चक्षु, पारावत, बंदर, बन्दर, बानर, मर्कट, मर्कटक, माठू, लांगुली, वानर, विटपीमृग, शाखामृग, शाला-वृक, शालावृक, हरि

३. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / मानवकृति

अर्थ : दृष्टिदोष दूर करने के लिए आँखों पर पहना जाने वाला लेंस लगा उपकरण।

उदाहरण : मेरे चश्मे का नंबर बढ़ गया है।

पर्यायवाची : उपनेत्र, ऐनक, चश्मा, दिव्य चक्षु, दिव्य-चक्षु, नज़र का चश्मा

४. संज्ञा / सजीव / जन्तु / स्तनपायी / व्यक्ति

अर्थ : दृष्टिहीन या नेत्रहीन व्यक्ति।

उदाहरण : अंधों के लिए ब्रेल लिपि का आविष्कार हुआ।

पर्यायवाची : अँधला, अंध, अंधरा, अंधा, अन्ध, अन्धरा, अन्धा, दिव्य चक्षु, दिव्य-चक्षु, सूरदास

५. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / बोध

अर्थ : जटिल परिस्थितियों की स्पष्ट समझ।

उदाहरण : अंतर्दृष्टि से सबकुछ स्पष्ट हो जाता है।

पर्यायवाची : अंतर्चितवन, अंतर्दृष्टि, अन्तर्चितवन, अन्तर्दृष्टि, ज्ञान-चक्षु, ज्ञान-दृष्टि, ज्ञानचक्षु, ज्ञानदृष्टि, दिव्य चक्षु, दिव्य-चक्षु

६. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / शारीरिक वस्तु

अर्थ : देवताओं की तीसरी आँख।

उदाहरण : तीसरी आँख ललाट में होती है।

पर्यायवाची : अर्द्धनयन, अर्धनयन, ज्ञानचक्षु, तीसरी आँख, तृतीय नेत्र, दिव्य चक्षु, दिव्य-चक्षु

७. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु

अर्थ : एक प्रकार का गंधद्रव्य।

उदाहरण : दिव्यचक्षु का प्रयोग अगरबत्ती बनाने में करते हैं।

पर्यायवाची : दिव्य चक्षु, दिव्य-चक्षु

मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।