सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से द्यु शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

द्यु (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / समय / अवधि

अर्थ : सूर्य निकलने से उसके अस्त होने तक का समय।

उदाहरण : आज का दिन मेरे लिए बहुत ही अच्छा रहा।
गर्मी में दिनमान बढ़ जाता है।

पर्यायवाची : अह, आहन, दिन, दिनमान, दिव, दिवस, दिवा, दिव्, दिहाड़ी, रोज, रोज़, व्युष्ट

सूर्योदयापासून सूर्यास्तापर्यंतचा काळ.

आजचा दिवस माझ्यासाठी खूप चांगला होता.
उन्हाळ्यात दिनमान 16 ते 18 तासंचे असल्याने तपमान वाढते.
दिनमान, दिवस

The time after sunrise and before sunset while it is light outside.

The dawn turned night into day.
It is easier to make the repairs in the daytime.
day, daylight, daytime
२. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु

अर्थ : जलती हुई लकड़ी, कोयला या इसी प्रकार की और कोई वस्तु या उस वस्तु के जलने पर अंगारे या लपट के रूप में दिखाई देने वाला प्रकाशयुक्त ताप।

उदाहरण : आग में उसकी झोपड़ी जलकर राख हो गई।

पर्यायवाची : अगन, अगनी, अगिआ, अगिन, अगिया, अगिर, अग्नि, अनल, अनिलसखा, अमिताशन, अय, अर्क, अर्दनि, अशिर, आग, आगि, आगी, आज्यमुक, आतश, आतिश, आशर, आशुशुक्षणि, आश्रयास, कालकवि, चित्रभानु, जगन्नु, जल्ह, तनूनपात्, तनूनपाद्, तपु, तपुर्जंभ, तपुर्जम्भ, तमोनुद, तमोहपह, दाढ़ा, दाव, दाहक, धरुण, ध्वांतशत्रु, ध्वांताराति, ध्वान्तशत्रु, ध्वान्ताराति, नीलपृष्ठ, परिजन्मा, पर्परीक, पवन-वाहन, पशुपति, पावक, बरही, बहनी, बाहुल, भारत, मलिनमुख, यविष्ठ, राजन्य, लघुलय, वर्हा, वसु, वसुनीथ, वह्नि, विंगेश, विश्वप्स, वृष्णि, वैश्वानर, शिखि, शिखी, शुक्र, शुचि, सोमगोपा, हुतासन, हृषु, हेमकेली

एखादी गोष्ट जाळू शकणारा प्रकाशयुक्त ताप.

वार्‍यामुळे अग्नी पसरत चालला होता
अग्नी, अनल, अनळ, आग, जाळ, पावक, वन्ही, विस्तव

The process of combustion of inflammable materials producing heat and light and (often) smoke.

Fire was one of our ancestors' first discoveries.
fire, flame, flaming
३. संज्ञा / निर्जीव / स्थान

अर्थ : खुले स्थान में ऊपर की ओर दिखाई देने वाला खाली स्थान।

उदाहरण : आकाश में काले बादल छाये हुए हैं।

पर्यायवाची : अंब, अंबर, अगास, अभ्र, अम्ब, अम्बर, अर्श, अविष, असमान, आकाश, आसमाँ, आसमान, आस्माँ, आस्मान, , गगन, गैन, तारापथ, तारायण, त्रिदशवर्त्म, त्रिदिव, दिव, दिव्, नभ, नभस्थल, निर्मोक, फलक, महाविल, महाशून्य, मेघद्वार, मेघवेश्म, वियत, वियत्, वृजन, व्योम, शून्य, समा, सोमधारा

ढग, सूर्य, चंद्र, तारे इत्यादी जिथे दिसतात ती पृथ्वीच्या वर अंतराळाचा घुमटाकार दिसणारा भाग.

आकाश काळ्या ढगांनी भरून आले
अंबर, अस्मान, आकाश, आभाळ, , गगन, नभ, व्योम

The atmosphere and outer space as viewed from the earth.

sky
४. संज्ञा / निर्जीव / स्थान / पौराणिक स्थान

अर्थ : हिंदुओं के अनुसार सात लोकों में से वह जिसमें पुण्य और सत्कर्म करने वालों की आत्माएँ जाकर निवास करती हैं।

उदाहरण : मनुष्य के अच्छे कर्म उसे स्वर्ग ले जाते हैं।

पर्यायवाची : अमर धाम, अमर-धाम, अमर-लोक, अमरधाम, अमरपद, अमरपुर, अमरलोक, अमरालय, अमरावती, अमृतलोक, अर्श, आसमाँ, आसमान, आस्माँ, आस्मान, इड़ा, ऋभुक्ष, जन्नत, त्रिदशालय, त्रिदिव, त्रिनाक, दिव, दिव्, देवलोक, द्यु-लोक, द्युलोक, धरुण, धाम, पुण्यलोक, बहिश्त, बिहिश्त, रपुर, विवुधपुर, वीरमार्ग, शतधृति, शुद्धावास, सुर लोक, सुरदेश, सुरधाम, सुरनगर, सुलोक, सोमधारा, स्वर्ग, स्वर्ग लोक, स्वर्लोक

देवाचे वसतिस्थान.

पुण्यकर्म केल्यास स्वर्गात स्थान मिळते अशी समजूत आहे
देवलोक, स्वर्ग, स्वर्गलोक

(Christianity) the abode of righteous souls after death.

paradise
५. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पौराणिक जीव

अर्थ : सूर्यदेव का लोक।

उदाहरण : युद्धक्षेत्र में लड़कर मरनेवाले सूर्यलोक में जाते हैं।

पर्यायवाची : सूर्य लोक, सूर्यलोक

सूर्यदेवाचा लोक.

युद्धात मेलेले सूर्यलोकात जातात.
सूर्यलोक
६. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पौराणिक जीव

अर्थ : हिन्दू धर्मग्रंथों में वर्णित एक देवता जो आग के अधिपति माने जाते हैं।

उदाहरण : स्वाहा अग्निदेव की पत्नी हैं।

पर्यायवाची : अग्नि, अग्निदेव, अनिलसखा, चित्रभानु, जंभारि, धरुण, पचत, परिजन्मा, पिंगेश, बसंदर, मित्रविंद, मित्रविन्द, वसुनीथ, वसुप्राण, वसुविद, वृषाकपि, वृष्णि, शांडिल्य, शाण्डिल्य, शिखि, शिखी, सोमगोपा

अग्नीची देवता.

स्वाहा ही अग्निदेवाची बायको आहे.
अग्निदेव
मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।