सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से पचड़ा शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

पचड़ा (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / कार्य / असामाजिक कार्य

अर्थ : व्यर्थ की परेशानी।

उदाहरण : मैं कहाँ इस झंझट में पड़ गई!।

पर्यायवाची : अपतान, अपताना, अवसेर, आल, कबाड़ा, जंजाल, झंझट, झमेला, परपंच, परपञ्च, प्रपंच, प्रपञ्च, फेर, बखेड़ा, साँसत, सांसत

घोटाळ्यात टाकणारी, अडचणीत आणणारी गोष्ट.

त्याच्या उचापतींनी मी कंटाळले आहे.
तु त्याला समजावण्याच्या फंद्यात पडू नकोस.
उचापत, उटारेटा, उठाठेव, उपद्व्याप, कारभार, झेंगट, फंदा, ब्याद, भानगड, लचांड, लोढणे, शुक्लकाष्ठ

An angry disturbance.

He didn't want to make a fuss.
They had labor trouble.
A spot of bother.
bother, fuss, hassle, trouble
२. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / गुणधर्म

अर्थ : वह गीत जो ओझा लोग देवी के सामने गाते हैं।

उदाहरण : ओझाजी देवीथान में झूम-झूमकर पचड़ा गा रहे हैं।

पर्यायवाची : पचरा

मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।