सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से पुंस्त्व शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

पुंस्त्व (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / शारीरिक वस्तु

अर्थ : शरीर की वह धातु जिससे उसमें बल, तेज और कान्ति आती है और सन्तान उत्पन्न होती है।

उदाहरण : वह वीर्य संबंधी रोग से पीड़ित है।

पर्यायवाची : इंद्रिय, इन्द्रिय, धातु, धातुप्रधान, धातुराजक, नुत्फा, पुंसत्व, बीज, मज्जारस, रेत, रेतन, रेतस्, रेत्र, वीर्य, वृष्ण्य, शुक्र, शुचीरता, शुचीर्य, शुटीर्य, हिरण्य, हीर

ज्यात शुक्राणू असतात अला नराच्या शरीरातील पदार्थ.

त्याने रक्त, लघवी, वीर्य हे सर्व तपासून घेतले.
धातू, रेत, शुक्र

The thick white fluid containing spermatozoa that is ejaculated by the male genital tract.

come, cum, ejaculate, seed, semen, seminal fluid
२. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / गुण

अर्थ : पुरुष का भाव या गुण या वह गुण जिसके कारण कोई पुरुष संतानोत्पत्ति कर सकता हो।

उदाहरण : उसमें पुरुषत्व की कमी है।

पर्यायवाची : पुंसकता, पुंसता, पुंसत्व, पुरुषता, पुरुषत्व, पौरुष, पौरुष्य, मर्दानगी

पुरुषाचा भाव किंवा गुण किंवा ज्यामुळे एखादा पुरुष प्रजोत्पादन करू शकतो ते गुण.

त्याच्यात पुरुषत्वाची कमतरता आहे.
पुरुषत्व

The masculine property of being capable of copulation and procreation.

virility
३. संज्ञा / सजीव / वनस्पति

अर्थ : एक सुगंधित घास।

उदाहरण : यहाँ पर बहुत अधिक गंधतृण है।

पर्यायवाची : गंधतृण, पुंसत्व, पुद्गल, भू-तृण, भूतृण

४. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / गुणधर्म

अर्थ : पुरुष की स्त्री के साथ सहवास करने की शक्ति या काम-शक्ति।

उदाहरण : पुंस्त्व की कमी के कारण पत्नी अपने पति को छोड़कर चली गई।

पर्यायवाची : पुंसत्व

५. संज्ञा / अवस्था / भौतिक अवस्था

अर्थ : व्याकरण में शब्द के पुंलिग होने की अवस्था या भाव।

उदाहरण :

पर्यायवाची : पुंलिगत्व, पुंसत्व

मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।