सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से पुष्पक शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

पुष्पक (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : पौधों में वह अंग जो गोल या लंबी पंखुड़ियों का बना होता है और जिसमें फल उत्पन्न करने की शक्ति होती है।

उदाहरण : उपवन में तरह-तरह के फूल खिले हुए हैं।

पर्यायवाची : कुसुम, गुल, पीलु, पुष्प, प्रसूत, प्रसून, प्रसूनक, फुलवा, फूल, मणीवक, वंश, शिगूफ़ा, शिगूफा, सारंग, सुमन

फळे उत्पन्न करणारा झाडाचा एक भाग,उमललेली कळी.

बागेत रंगीत फूले लागली होती
कुसुम, पुष्प, फूल, सुमन

Reproductive organ of angiosperm plants especially one having showy or colorful parts.

bloom, blossom, flower
२. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पौराणिक जीव

अर्थ : पुराणों में वर्णित एक विमान जिसे रावण ने कुबेर से छीन लिया था।

उदाहरण : लंका विजय के बाद भगवान राम पुष्पक पर सवार होकर अयोध्या आये।

पर्यायवाची : पुष्पक विमान

३. संज्ञा / अवस्था / शारीरिक अवस्था / रोग

अर्थ : एक नेत्र रोग जिसमें पुतली के ऊपर सफेद दाग या छींटा सा पड़ जाता है।

उदाहरण : उसके आँख में फूला पड़ गया है।

पर्यायवाची : अर्म, ढेंढर, फुल्ला, फूला, फूली, शुक्र

डोळ्यातील फूल.

त्याच्या डोळ्यात पुष्पक झाले आहे.
पुष्पक, वडस
मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।