सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से मर्म स्थल शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

मर्म स्थल (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / शारीरिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : छाती के अंदर बायीं ओर का एक अवयव जिसके स्पन्दन से सारे शरीर की नाड़ियों में रक्त-संचार होता रहता है।

उदाहरण : हृदय प्राणियों का महत्वपूर्ण अंग है।

पर्यायवाची : अवछंग, असह, उअर, उछंग, उर, करेजा, कलेजा, जिगर, जियरा, जिया, दिल, मर्म, हार्ट, हिय, ही, हृदय

ज्यामुळे शुद्ध रक्ताचे शरीरभर रक्तवाहिन्यांद्वारे अभिसरण होते तो छातीत डाव्या बाजूला असणारा एक अवयव.

हृदयाचे अलिंद आणि निलय असे दोन भाग असतात
काळीज, हृदय
२. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / शारीरिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : शरीर का वह स्थान या भाग जहाँ आघात पहुँचने से अत्यधिक पीड़ा होती है।

उदाहरण : शरीर में हृदय, कपाल आदि मर्मस्थल हैं।

पर्यायवाची : मरम, मर्म, मर्म स्थान, मर्मस्थल, मर्मांग

आघात पोहोचला असता ज्याला अत्याधिक त्रास होतो असा शरीराचा नाजूक भाग.

शरीरात हृदय, कपाळ इत्यादी मर्मस्थान आहेत.
मरम, मर्म, मर्मस्थल, मर्मस्थान

A place of especial vulnerability.

soft spot, weak part, weak spot
मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।