सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से महिधर शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

महिधर (संज्ञा)

१. संज्ञा / जातिवाचक संज्ञा
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / निर्जीव / स्थान / भौतिक स्थान

अर्थ : भूमि का बहुत ऊँचा, ऊबड़-खाबड़ और प्रायः पथरीला प्राकृतिक भाग।

उदाहरण : हिमालय पर्वत भारत के उत्तर में है।

पर्यायवाची : अग, अचल, अद्रि, अलम, अवि, अश्म, कंदराकर, गिर, गिरि, घाट, तालिश, तुंग, दरीभृत, धातुभृत्, पयोधर, पर्वत, पहाड़, पारावत, पृथुशेखर, पृथ्वीधर, भूधर, भूमिधर, भूमिभृत, वलाहक, वसुधाधर, व्यंगक, व्यंशक, व्यङ्गक, शिखी, शैल, स्थावर

A land mass that projects well above its surroundings. Higher than a hill.

mount, mountain
२. संज्ञा / सजीव / जन्तु / काल्पनिक प्राणी

अर्थ : पुराणों के अनुसार हजार फनों वाला वह नाग जिसके फनों पर यह पृथ्वी ठहरी हुई है।

उदाहरण : शेषनाग हिन्दुओं के एक देवता माने जाते हैं।

पर्यायवाची : अनंतदेव, अनंतशीर्ष, अनन्तदेव, अनन्तशीर्ष, अहिनाह, अहिपति, अहीश, आलुक, धरणीधर, धराधार, नागराज, नागाधिप, नागेश, फणींद्र, फणीन्द्र, फनिंद, भूमिधर, शेष, शेष सर्प, शेषनाग, सर्पराज, सहस्त्रानन

नागांचा राजा, यास सहस्र मुखे असून याने आपल्या डोक्यावर पृथ्वी तोलून धरलेली आहे अशी समजूत आहे.

शेष हे विष्णूचे आसन आहे
महीधर, महीध्र, शेष, शेषनाग

An imaginary being of myth or fable.

mythical being
मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।