सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से मारुताशन शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

मारुताशन (संज्ञा)

१. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पौराणिक जीव

अर्थ : भगवान शिव के बड़े पुत्र जो युद्ध के देवता कहे जाते हैं।

उदाहरण : कार्तिकेय देव सेना के सेनापति हैं।

पर्यायवाची : अंबिकेय, अग्निभू, अम्बिकेय, आंबिकेय, आग्नेय, आम्बिकेय, कामजित, कार्तिक, कार्तिकेय, कार्त्तिकेय, कुमार, क्रौंचारि, क्रौञ्चदारण, गांगेय, गुह, चंद्रानन, तारकजित, तारकारि, दीप्तशक्ति, देवव्रत, द्वादशकर, पाण्मातुर, पावकात्मज, प्रिय, बाहुलेय, बाहुलेह, भवात्मज, मयूरकेतु, मयूरेश, महाशक्ति, महासेन, महिषार्दन, रुद्रतेज, विशाक्ष, विशाख, शक्तिधर, शक्तिध्वज, शक्तिपाणि, शज, शरजन्मा, शांकरि, शाख, शिखिध्वज, शिखिवाहन, शिखीभू, शिखीश्वर, शूर-सेनप, शूरसेनप, षडानन, षाण्मातुर, सिद्धसेन, सेनानी, सेनापति, स्कंद, स्कन्द, हरिहय

देवांचा सेनापति व शंकराचा मोठा मुलगा.

स्कंद आजन्म ब्रम्हचारी होता अशी समजूत आहे
कार्तिकस्वामी, कार्तिकेय, स्कंद
२. संज्ञा / जातिवाचक संज्ञा
    संज्ञा / सजीव / जन्तु / सरीसृप

अर्थ : सरीसृप वर्ग का एक रेंगने वाला पतला और लंबा जीव जिसकी कई जातियाँ पायी जाती हैं।

उदाहरण : प्रायः आई आई टी बॉम्बे में कई तरह के ज़हरीले साँप रेंगते हुए देखे जा सकते हैं।

पर्यायवाची : अघविष, अनिलाशी, अपत्यशत्रु, अहि, आभोग, आशीविष, उरंग, कर्कटी, कुंडली, कुण्डली, तार्क्ष्य, त्सरु, दीर्घपृष्ठ, दीर्घरसन, दृक्कर्ण, द्विरसन, पन्नग, पवनाश, पवनाशन, पवनाशी, पुलिरिक, प्रबलाकी, प्रवलाकी, फणधर, फणिक, फणी, फुनिंग, भुअंग, भुअंगम, भुजंग, लांगली, लेलिह, लेलिहान, विषदंतक, विषदन्तक, विषधर, विषानन, व्याल, शेव, श्वसनाशन, श्वसनोत्सुक, सर्प, साँप, सारंग

सरीसृप वर्गातील एक लांब आकाराचा, सरपटणारा प्राणी.

प्राचीन लोकसमूहात सर्प हे एक देवक मानले जात असे.
अही, उरग, जनावर, व्याल, सर्प, साप

Limbless scaly elongate reptile. Some are venomous.

ophidian, serpent, snake
मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।