सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से मुकुन्द शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

मुकुन्द (संज्ञा)

१. संज्ञा / व्यक्तिवाचक संज्ञा
    संज्ञा / सजीव / जन्तु / पौराणिक जीव

अर्थ : यदुवंशी वसुदेव के पुत्र जो विष्णु के मुख्य अवतारों में से एक हैं।

उदाहरण : सूरदास कृष्ण के परम भक्त थे।

पर्यायवाची : अच्युत, अनंत-जित्, अनंतजित्, अनन्त-जित्, अनन्तजित्, अरिकेशी, अहिजित, कंसारि, कन्हैया, कमलनयन, कान्हा, कामपाल, कालियमर्दन, किशन, कुंजबिहारी, कृष्ण, कृष्णचंद्र, केशव, खरारि, खरारी, गरुड़गामी, गिरधर, गिरधारी, गिरिधर, गिरिधारी, गुपाल, गोपाल, गोपीश, गोपेश, गोविंद, गोविंदा, गोविन्द, गोविन्दा, घनश्याम, तुंगीश, दामोदर, द्वारकाधीश, द्वारकानाथ, द्वारकेश, द्वारिकाधीश, द्वारिकानाथ, नंदकिशोर, नंदकुँवर, नंदकुमार, नंदनंदन, नंदलाल, नटराज, नन्दकिशोर, नन्दकुँवर, नन्दकुमार, नन्दनन्दन, नन्दलाल, नरनारायण, नवलकिशोर, पीतवास, पूतनारि, पूतनासूदन, बकवैरी, बनवारी, बलबीर, ब्रजबिहारी, मंजुकेशी, मधुसूदन, मनमोहन, माधव, मुकुंद, मुरली मोहन, मुरलीधर, मुरलीवाला, मुरारी, मोहन, यवनारि, यादवेंद्र, यादवेन्द्र, योगीश, योगीश्वर, योगेश, योगेश्वर, राधारमण, रासबिहारी, वंशीधर, वंशीधारी, वनमाली, वासुदेव, विट्ठलदेव, विपिन विहारी, विश्वपति, वृषदर्भ, वृषनाशन, वृष्णि, वृष्णिक-गर्भ, वेदबाहु, वेदाध्यक्ष, शकटहा, शकटारि, शतानंद, शतानन्द, शवकृत, शिखंडी, शिखण्डी, श्याम, श्रीकृष्ण, सोमेश, सोमेश्वर, हरि, हृषीकेश

यदुवंशीय वसुदेवाचा पुत्र जो विष्णूच्या दशावतारांपैकी आठवा अवतार आहे.

महाभारताच्या युद्धात श्रीकृष्ण अर्जुनाचा सारथी होता
अच्युत, कृष्ण, केशव, गोपाल, गोपाळ, गोविंद, देवकीपुत्र, माधव, श्याम, श्रीकृष्ण

8th and most important avatar of Vishnu. Incarnated as a handsome young man playing a flute.

krishna
२. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / रासायनिक वस्तु

अर्थ : एक सफेद, बहुत वजनी और चमकीली धातु जो साधारणतः द्रव रूप में रहती है।

उदाहरण : पारा ही एक ऐसी धातु है जो द्रव अवस्था में पायी जाती है।

पर्यायवाची : अमर, अवित्यज, अशोक, जैत्र, दिव्यरस, पर्वतोद्भव, पारत, पारद, पारा, महातेज, महारस, मुकुंद, मृत्युनाशक, रसधातु, रसनाथ, रसनायक, रसपति, रुद्ररेता, रेत, रेतस्, शंकरशुक्र, शंभुतेज, शम्भुतेज, शिववीय, सर्व, सिंधुज, सिद्धधातु, सिन्धुज, स्कंदशक, स्कन्दशक

A heavy silvery toxic univalent and bivalent metallic element. The only metal that is liquid at ordinary temperatures.

atomic number 80, hg, hydrargyrum, mercury, quicksilver
३. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / खाद्य
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : एक प्रकार की लता से प्राप्त परवल के आकार का फल जिसकी सब्जी बनाई जाती है।

उदाहरण : शीला कुंदरू की सब्जी बना रही है।

पर्यायवाची : कंदूरी, कन्दूरी, कुँदरु, कुँदरू, कुंदरू, तुंडकेरी, तुंडि, तुंडिका, तुंडिकेशी, तुण्डकेरी, तुण्डि, तुण्डिका, तुण्डिकेशी, बिंबा, बिंबाफल, मधुरबिंबी, मधुरबिम्बी, मुकंद, मुकन्द, मुकुंद, रक्तफला, शिखरी, शिखिकुंद, शिखिकुन्द

तोंडली ह्या वेलीपासून मिळणारे फळ.

शीला तोंडलीची भाजी करत आहे.
तोंडली, तोंडले
४. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / लता

अर्थ : एक प्रकार की बेल।

उदाहरण : कुंदरू में परवल के आकार के फल लगते हैं।

पर्यायवाची : कंदूरी, कन्दूरी, कुँदरु, कुँदरू, कुंदरू, तुंडी, बिंबा, मधुरबिंबी, मधुरबिम्बी, मुकंद, मुकन्द, मुकुंद, रक्तफला, शिखरी, शिखिकुंद, शिखिकुन्द

एक वेल.

तोंडलीला हिरव्या रंगाची फळे येतात.
तोंडली

Any vine of the family Cucurbitaceae that bears fruits with hard rinds.

gourd, gourd vine
५. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / लता

अर्थ : एक बरसाती लता जिसकी पत्तियाँ साग और पकौड़ी बनाने के काम में आती हैं।

उदाहरण : माँ आज पोई की पत्तियों की पकौड़ी बना रही है।

पर्यायवाची : पूतिका, पूतीका, पूथिका, पोई, मुकुंद, विशाला, वृश्चिकपत्रिका, वृश्चिकप्रिया, वृश्चिपत्रिका

A plant with a weak stem that derives support from climbing, twining, or creeping along a surface.

vine
६. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / वृक्ष

अर्थ : एक बड़ा पेड़ जिसकी लकड़ी बहुत मजबूत होती है और पत्ते पीपल के पत्तों के समान होते हैं।

उदाहरण : गम्भारी की लकड़ी का बना ढोल बहुत ही उत्तम होता है।

पर्यायवाची : काश्मरी, गंभारी, गम्भारी, द्वितीयत्रिफला, भद्रा, मधुरसा, मुकुंद, सिंधुपर्णी, सिंधुवेषण, सिधुपर्णी, सिन्धुपर्णी, सिन्धुवेषण

A tall perennial woody plant having a main trunk and branches forming a distinct elevated crown. Includes both gymnosperms and angiosperms.

tree
मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।