सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से युयुधान शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

युयुधान (संज्ञा)

१. संज्ञा / सजीव / जन्तु / स्तनपायी / व्यक्ति

अर्थ : वह जो युद्ध करता हो।

उदाहरण : सच्चा योद्धा समर भूमि में अपनी जान दे देता है लेकिन पीठ नहीं दिखाता है।

पर्यायवाची : आयुधजीवी, आयुधी, जंगावर, जोधा, प्रहर्ता, बाष्कल, योद्धा, योध, योधक, योधा, योधी, योधेय, यौधेय, रणकारी, लड़ाका, विक्रांत, विक्रान्त, वीर, शस्त्रजीवी, संग्रामी, सामंत, सामन्त, सिपाही, सूरमा

लढाई करणारी व्यक्ती.

खरा योद्धा रणांगणात पाठ दाखवत नाही
झुंजार, योद्धा, लढवय्या, वीर

Someone engaged in or experienced in warfare.

warrior
२. संज्ञा / व्यक्तिवाचक संज्ञा
    संज्ञा / सजीव / जन्तु / पौराणिक जीव

अर्थ : एक देवता जो स्वर्ग तथा देवताओं के अधिपति माने जाते हैं।

उदाहरण : वेदों में इंद्र की आराधना का उल्लेख है।

पर्यायवाची : अचलधृष, अदित, अनंतदृष्टि, अनन्तदृष्टि, अनेकलोचन, अप्सरेश, अमर-राज, अमरनाथ, अमरपति, अमरप्रभु, अमरराज, अमरवर, अमराधिप, अमरेश, अमरेश्वर, अरब, अर्, अर्वण, अलकेश, आदित्य, इंद, इंदर, इंदु, इंद्र, इंद्रदेव, इन्द, इन्दर, इन्दु, इन्द्र, इन्द्रदेव, खदिर, जंभारि, तुरासाह, त्रिदशपति, त्रिदशाधिप, त्रिदशेश्वर, त्रिदिवाधीश, दानवारि, दिव-राज, दिवक्ष, दिवराज, देवराज, देवेंद्र, देवेन्द्र, देवेश, दैत्यदानवमर्दन, दैत्यारि, दौल्मि, द्युपति, पचत, पविधर, पाकशासन, पाकहंता, पाकहन्ता, पाकारि, पुरंदर, पुरन्दर, पूतक्रतु, पौलोम, बिड़ौजा, मघवान, मदनपति, महेंद्र, महेन्द्र, मेघपति, यामनेमि, रंभापति, रम्भापति, वज्रधर, वरेंद्र, वरेन्द्र, वलसूदन, वलहंता, वलहन्ता, वलहिष, विजयंत, विवुधेश, विश्वभुज, वृत्रनाशन, वृत्रवैरी, वृत्रहा, वृत्रारि, वृषण, वृषाकपि, वृष्णि, वेत्रहा, शंबरारि, शक्र, शचींद्र, शचीन्द्र, शम्बरारि, शाक्वर, शिखी, श्वेतवह, श्वेतवाह, सहस्रचक्षु, सहस्रनेत्र, सुरकेतु, सुरनाथ, सुरनायक, सुरनाह, सुरपति, सुरभानु, सुरेंद्र, सुरेन्द्र, सुरेश, स्वर्पति

३. संज्ञा / समूह

अर्थ : हिंदुओं के चार वर्णों में दूसरा जिस वर्ण के लोगों का काम देश पर शासन करना और शत्रुओं से उसकी रक्षा करना था।

उदाहरण : राम क्षत्रिय थे।

पर्यायवाची : क्षत्रिय, क्षात्र, खत्रिय, खत्री, युधान, राजन्य, विराट्

चार वर्णातील दुसरा वर्ण यांचे काम शासन व युद्ध करणे होते.

शिवाजी महाराज क्षत्रिय होते
क्षत्र, क्षत्रिय

The second highest of the four varnas: the noble or warrior category.

rajanya
४. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पौराणिक जीव

अर्थ : एक पौराणिक पुरुष।

उदाहरण : महाभारत के युद्ध में सात्यकी पांडवों की ओर से लड़े थे।

पर्यायवाची : सात्यकि, सात्यकी

महाभारतातील एक व्यक्ती.

महाभारताच्या युद्धात सात्यकी पांडवांच्या बाजूने लढला.
युयुधान, सात्यकी

An imaginary being of myth or fable.

mythical being
५. संज्ञा / सजीव / जन्तु / स्तनपायी / व्यक्ति

अर्थ : हिंदुओं के चार वर्णों में दूसरे वर्ण का व्यक्ति जिसका काम देश पर शासन करना और शत्रुओं से उसकी रक्षा करना था।

उदाहरण : कहा जाता है कि परशुराम ने क्षत्रियों को इक्कीस बार पृथ्वी से नष्ट कर दिया था।

पर्यायवाची : क्षत्रिय, क्षात्र, खत्रिय, खत्री, युधान, राजन्य, विराट्

मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।