सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं

रसा (संज्ञा)

१. संज्ञा / जातिवाचक संज्ञा
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / खाद्य
    संज्ञा / रूप / द्रव

अर्थ : पकी हुई तरकारी आदि में का पानी वाला अंश।

उदाहरण : सब्जी में बहुत ज्यादा रसा है।

पर्यायवाची : आबजोश, झोर, झोल, रस, शोरबा

२. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / निर्जीव / स्थान / भौतिक स्थान

अर्थ : सौर जगत का वह ग्रह जिस पर हम लोग निवास करते हैं।

उदाहरण : चन्द्रमा पृथ्वी का एक उपग्रह है।

पर्यायवाची : अचलकीला, अचला, अदिति, अद्रिकीला, अपारा, अवनि, अवनी, अहि, आदिमा, इड़ा, इरा, इल, इला, इलिका, उदधिमेखला, उर्वि, केलि, क्षिति, खगवती, जगद्योनि, जगद्वहा, जमीं, जमीन, ज़मीं, ज़मीन, तप्तायनी, तोयनीबी, देवयजनी, धरणि, धरणी, धरती, धरा, धरित्री, धरुण, धात्री, पुहमी, पुहुमी, पृथिवी, पृथिवीमंडल, पृथिवीमण्डल, पृथ्वी, पोहमी, प्रथी, प्रियदत्ता, बीजसू, भू, भूतधात्री, भूमंडल, भूमण्डल, भूमिका, भूयण, मला, महि, मही, मेदिनी, यला, रत्नगर्भा, रत्नसू, रत्नसूति, रेणुका, रेनुका, वसनार्णवा, वसुंधरा, वसुधा, वसुन्धरा, विपुला, विश्वंभरा, विश्वगंधा, विश्वगन्धा, विश्वधारिणी, विश्वम्भरा, वैष्णवी, सुगंधिमाता, सुगन्धिमाता, सोलाली, हेमा

३. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / शारीरिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : मुँह के अंदर का वह लंबा चपटा मांस पिंड जिससे रसों का आस्वादन और उसकी सहायता से शब्दों का उच्चारण होता है।

उदाहरण : जीभ बोलने में मुख्य भूमिका निभाती है।

पर्यायवाची : जबान, ज़बान, ज़ुबान, जिब्भा, जिभ्या, जिह्वा, जीभ, जीभड़िया, जीह, जुबान, मुख-चीरी, मुखचीरी, रसना, रसनेंद्रिय, रसनेन्द्रिय, रसमाता, रसमातृका, ललना, वाणी

४. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / काल्पनिक वस्तु

अर्थ : पृथ्वी के नीचे के सात लोकों में से छठा।

उदाहरण : रसातल की तुलना नरक से की जाती है।

पर्यायवाची : रसातल

५. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु

अर्थ : एक प्रकार का सुगंधित गोंद।

उदाहरण : शिलारस लोहबान की तरह होता है।

पर्यायवाची : पिण्याक, शल्लकीद्रव, शल्लकीरस, शिलारस, सिल्हक

६. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु

अर्थ : एक औषधि।

उदाहरण : मेदा ज्वर एवं राजयक्ष्मा के लिए लाभदायक होती है।

पर्यायवाची : पुरुषदंतिका, पुरुषदन्तिका, मधुरा, मेद, मेदा, मेदिनी, वरा, शल्यदा, शल्यपर्णिका, शल्या, स्वल्पपर्णी

७. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / खाद्य
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : एक प्रकार का मीठा रसीला फल जो लताओं में लगता है।

उदाहरण : अंगूर से शराब भी बनाई जाती है।

पर्यायवाची : अंगूर, अमृतफला, दाख, द्राक्षा, मधुरसा

८. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / लता

अर्थ : एक प्रकार की लता जिसमें मीठा, रसीला फल लगता है।

उदाहरण : नासिक में अंगूर की बहुत खेती होती है।

पर्यायवाची : अंगूर, अमृतफला, दाख लता, द्राक्ष लता, मधुरसा

९. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / लता

अर्थ : एक लता।

उदाहरण : रासना दवा के काम में आता है।

पर्यायवाची : एलापर्णी, नाकुल, युक्तरसा, युक्ता, रासना, रास्ना, वृश्चिक-विषापहा, सर्पादनी

१०. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / लता

अर्थ : एक बेल जिसके पत्ते गोल और नोकदार, फूल सफेद तथा फल लाल और मकोय के समान होते हैं।

उदाहरण : वैद्यक के अनुसार पाढ़ा कड़वी, चरपरी, तीखी, गरम व हड्डियों को जोड़ने वाली होती है।

पर्यायवाची : अंबा, अबिद्धकर्णी, अम्बा, अविद्धकर्णी, पाठा, पाढ़, पाढ़ा, वरा, वृतपर्णी, वृद्धतिक्ता

११. संज्ञा / सजीव / वनस्पति / लता

अर्थ : सतावर के समान एक लता।

उदाहरण : कोकोली की जड़ औधष के रूप में प्रयुक्त होती है।

पर्यायवाची : काकोली, तैलस्यंदा, तैसस्यन्दा, वकुली, वैद्या, शतपादिका

१२. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / खाद्य
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : एक कदन्न।

उदाहरण : शीला कंगनी की रोटी बना रही है।

पर्यायवाची : कँगनी, कंगनी, काँक, पण्यांधा, पण्यान्धा, प्रिय, प्रियंगु, प्रियंगू, प्रियङ्गु, प्रियङ्गू, रसायनवरा, स्त्री

१३. संज्ञा / सजीव / वनस्पति

अर्थ : एक पौधा जिसके अन्न की गणना कदन्न में होती है।

उदाहरण : किसान खेत में कंगनी की कटाई कर रहा है।

पर्यायवाची : कँगनी, कंगनी, पण्यांधा, पण्यान्धा, प्रिय, प्रियंगु, प्रियंगू, प्रियङ्गु, प्रियङ्गू, रसायनवरा, विश्वक्शेना, स्त्री

रसा के संभावित विलोम शब्द : अंबर, अप्रिय, अम्बर, आकाश, आसमान, गगन, नभ, पुरुष

रसा के लिऐ अंग्रेजी भाषा के शब्द: broth, cream, foxtail millet, grape, hungarian grass, italian millet, setaria italica, stock