सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं

रस (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : वनस्पतियों अथवा उनके फूल, फल,पत्तों आदि में रहने वाला वह तरल पदार्थ जो दबाने, निचोड़ने आदि पर निकलता या निकल सकता है।

उदाहरण : नीम की पत्तियों का रस पीने तथा लगाने से चर्म रोग दूर होता है।

पर्यायवाची : अरक, अर्क, जूस

२. संज्ञा / जातिवाचक संज्ञा
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / खाद्य
    संज्ञा / रूप / द्रव

अर्थ : पकी हुई तरकारी आदि में का पानी वाला अंश।

उदाहरण : सब्जी में बहुत ज्यादा रसा है।

पर्यायवाची : आबजोश, झोर, झोल, रसा, शोरबा

३. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / ज्ञान

अर्थ : खाने-पीने की चीज़ मुँह में पड़ने पर उससे जीभ को होने वाला अनुभव।

उदाहरण : बुखार की वजह से राम के मुँह का स्वाद बिगड़ गया है ।
वह स्वाद ले-लेकर खा रहा है।

पर्यायवाची : आस्वाद, जायका, मज़ा, मजा, लज़्ज़त, लज्जत, विपाक, स्वाद

४. संज्ञा / जातिवाचक संज्ञा
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / खाद्य
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / मानवकृति
    संज्ञा / रूप / द्रव

अर्थ : वह पानी जिसमें शक्कर, खाँड़ आदि घुला हो।

उदाहरण : खाँड़ की अपेक्षा गुड़ का शर्बत अधिक अच्छा होता है।

पर्यायवाची : शरबत, शर्बत, सिरप, सीरप

५. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु
    संज्ञा / रूप / द्रव

अर्थ : किसी पदार्थ का वह रस जो भभके आदि से खींचने पर निकले।

उदाहरण : पुदीने का अर्क पेट के लिए बहुत अच्छा होता है।

पर्यायवाची : अरक, अर्क, अर्क़, आसव, सत, सार

६. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / भाग
    संज्ञा / रूप / द्रव

अर्थ : वृक्षों के शरीर से निकलने वाला या पाछकर निकाला जाने वाला तरल पदार्थ।

उदाहरण : कुछ वृक्षों के निर्यास औषधि के रूप में प्रयोग किए जाते हैं।

पर्यायवाची : निर्यास, निर्यूस, मद, मस्ती

७. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / शारीरिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : किसी ग्रंथि या कोशिका से स्रावित होने वाला वह द्रव जिसका शारीरिक क्रियाओं में महत्व है।

उदाहरण : लार, हार्मोन आदि रस हैं।

पर्यायवाची : स्राव

८. संज्ञा / रूप / द्रव

अर्थ : वैद्यक के मत से शरीरस्थ सात धातुओं में से पहली।

उदाहरण : रस के अंतर्गत शरीर में उपस्थित पानी आता है।

९. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु

अर्थ : किसी पदार्थ का सार या तत्व।

उदाहरण : रस कई तरह के होते हैं।

१०. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / गुणधर्म
    संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / मनोवैज्ञानिक लक्षण

अर्थ : साहित्य में कथानकों, काव्यों, नाटकों आदि में रहने वाला वह तत्व जो अनुराग, करुणा, क्रोध, रति आदि मनोभावों को जागृत, प्रबल तथा सक्रिय करता है।

उदाहरण : रस की संख्या नौ मानी गई है।

११. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / ज्ञान

अर्थ : किसी बात में रुचि होने के कारण उससे मिलने वाला या लिया जाने वाला सुख।

उदाहरण : भक्त भगवान के कीर्तन का आनंद ले रहा है।

पर्यायवाची : अनंद, अनन्द, आनंद, आनन्द, मज़ा, मजा, रसास्वादन, लुत्फ, लुत्फ़, स्वाद

रस के संभावित विलोम शब्द : विषाद, वेदना, शोक

रस के लिऐ अंग्रेजी भाषा के शब्द: blood, broth, flavor, flavour, gaiety, ice, juice, merriment, nectar, nip, relish, sap, sapidity, savor, savour, secretion, sherbert, sherbet, smack, sorbet, tang