सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से रौनक़ शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

रौनक़ (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / गुण

अर्थ : एक तरह का प्रकाश।

उदाहरण : उसके चेहरे की चमक स्पष्ट झलक रही थी।

पर्यायवाची : अरचि, अर्कत्व, आद्योत, आब, आबताब, आबदारी, आभा, उजास, उज्ज्वला, उज्वला, उल्लास, ओज, कांति, कान्ति, केतु, चमक, चिलक, जगमगाहट, ज्योति, झकझकाहट, ताब, तेज, त्विषा, दमक, दीप्ति, द्युति, द्युतिमा, धाम, पानी, प्रतिभा, प्रतिभान, प्रदीप्ति, प्रभा, भास, रोचि, रौनक, वर्हा, विद्योत्, वृष्णि

Merriment expressed by a brightness or gleam or animation of countenance.

He had a sparkle in his eye.
There's a perpetual twinkle in his eyes.
light, spark, sparkle, twinkle
२. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / ज्ञान

अर्थ : सुहावना होने या लगने की अवस्था या भाव।

उदाहरण : वसंत की बहार चहु ओर दिखाई दे रही है।

पर्यायवाची : बहार, रौनक, सुहावनापन

एखाद्या गोष्टीतील वैपुल्याचा काळ.

गुलमोहोराचा बहर खूप मोहक दिसत होता.
बहर

Pleasantness resulting from agreeable conditions.

A well trained staff saw to the agreeableness of our accommodations.
He discovered the amenities of reading at an early age.
agreeableness, amenity
३. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / ज्ञान

अर्थ : विकसित होने की अवस्था या भाव।

उदाहरण : बागों में हर तरफ बहार है।

पर्यायवाची : प्रफुल्लता, बहार, रौनक, विकास

विकसित होण्याची अवस्था वा उत्कर्षाची पूर्णता.

सध्या गुलमोहोराला बहर आला आहे.
उमलणे, जोम, तजेला, बहर

A process in which something passes by degrees to a different stage (especially a more advanced or mature stage).

The development of his ideas took many years.
The evolution of Greek civilization.
The slow development of her skill as a writer.
development, evolution
४. संज्ञा / निर्जीव / घटना / सामाजिक घटना

अर्थ : उत्सव, त्योहार आदि पर या किसी अन्य कारण से किसी स्थान पर बहुत से लोगों के आते-जाते रहने की क्रिया, अवस्था या भाव।

उदाहरण : मुहल्ले में चहल-पहल देखकर हम समझ गये की आज कोई उत्सव है।

पर्यायवाची : अबादानी, आबादानी, आवादानी, गहमा-गहमी, गहमागहमी, चहल पहल, चहल-पहल, चहलपहल, चाल, धूम, धूम धड़क्का, धूम-धड़क्का, धूम-धाम, धूमधड़क्का, धूमधाम, रौनक

मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।