सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से शुक्र शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

शुक्र (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / समय / अवधि

अर्थ : बृहस्पतिवार के बाद और शनिवार के पहले का दिन।

उदाहरण : उसके बड़े बेटे का जन्म शुक्रवार को हुआ था।

पर्यायवाची : शुक, शुकवार, शुक्रवार

२. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु

अर्थ : सौर जगत का एक ग्रह जो पृथ्वी की अपेक्षा सूर्य के अधिक पास है।

उदाहरण : वैज्ञानिक शुक्र के बारे में जानकारी इकट्ठा करने में लगे हुए हैं।

पर्यायवाची : वीनस, शुक्र ग्रह, शुक्रग्रह, श्वेतरथ, षोड़शांशु, सित, सूक

३. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु

अर्थ : जलती हुई लकड़ी, कोयला या इसी प्रकार की और कोई वस्तु या उस वस्तु के जलने पर अंगारे या लपट के रूप में दिखाई देने वाला प्रकाशयुक्त ताप।

उदाहरण : आग में उसकी झोपड़ी जलकर राख हो गई।

पर्यायवाची : अगन, अगनी, अगिआ, अगिन, अगिया, अगिर, अग्नि, अनल, अनिलसखा, अमिताशन, अय, अर्क, अर्दनि, अशिर, आग, आगि, आगी, आज्यमुक, आतश, आतिश, आशर, आशुशुक्षणि, आश्रयास, कालकवि, चित्रभानु, जगन्नु, जल्ह, तनूनपात्, तनूनपाद्, तपु, तपुर्जंभ, तपुर्जम्भ, तमोनुद, तमोहपह, दाढ़ा, दाव, दाहक, द्यु, धरुण, ध्वांतशत्रु, ध्वांताराति, ध्वान्तशत्रु, ध्वान्ताराति, नीलपृष्ठ, परिजन्मा, पर्परीक, पवन-वाहन, पशुपति, पावक, बरही, बहनी, बाहुल, भारत, मलिनमुख, यविष्ठ, राजन्य, लघुलय, वर्हा, वसु, वसुनीथ, वह्नि, विंगेश, विश्वप्स, वृष्णि, वैश्वानर, शिखि, शिखी, शुचि, सोमगोपा, हुतासन, हृषु, हेमकेली

४. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पौराणिक जीव

अर्थ : एक ऋषि जो दानवों के गुरु माने जाते हैं।

उदाहरण : शुक्राचार्य राक्षसों का उत्थान करने के लिए सदा प्रयत्नरत रहते थे।

पर्यायवाची : असुर गुरु, असुर-गुरु, असुरगुरु, असुराचार्य, आदिकवि, उशना, दानव गुरु, दानवगुरु, दैत्यपुरोधा, दैत्येज्य, भार्गव, शुक्राचार्य, सित

५. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
६. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / स्वामित्व

अर्थ : सोना-चाँदी, ज़मीन-जायदाद आदि संम्पत्ति जिसकी गिनती पैसे के रूप में होती है।

उदाहरण : धन-दौलत का उपयोग अच्छे कार्यों में ही करना चाहिए।

पर्यायवाची : अरथ, अर्थ, अर्बदर्ब, इकबाल, इक़बाल, इशरत, कंचन, जमा, ज़र, दत्र, दौलत, द्रव्य, धन, धन-दौलत, नियामत, नेमत, पैसा, माल, रुपया-पैसा, लक्ष्मी, वित्त, विभव, वैभव, शेव

७. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / शारीरिक वस्तु

अर्थ : शरीर की वह धातु जिससे उसमें बल, तेज और कान्ति आती है और सन्तान उत्पन्न होती है।

उदाहरण : वह वीर्य संबंधी रोग से पीड़ित है।

पर्यायवाची : इंद्रिय, इन्द्रिय, धातु, धातुप्रधान, धातुराजक, नुत्फा, पुंसत्व, पुंस्त्व, बीज, मज्जारस, रेत, रेतन, रेतस्, रेत्र, वीर्य, वृष्ण्य, शुचीरता, शुचीर्य, शुटीर्य, हिरण्य, हीर

८. संज्ञा / सजीव / वनस्पति

अर्थ : लगभग छः-सात हाथ ऊँचा एक पौधा जिसके बीजों से तेल निकाला जाता है।

उदाहरण : एरंड का फल कँटीला होता है।

पर्यायवाची : अंड, अंडा, अंडी, अण्ड, अण्डा, अण्डी, अरंड, अरंडी, अरण्ड, अरण्डी, असार, इष्ट, एंड, एण्ड, एरंड, एरण्ड, दीर्घदंड, दीर्घदंडक, दीर्घदण्ड, दीर्घदण्डक, ब्याघ्रपुच्छ, रवक, रेंड, रेंड़, रेंड़ी, रेड़, रेण्ड, रेण्ड़, वातारि, व्याघ्रपुच्छ, व्रणह

९. संज्ञा / अवस्था / शारीरिक अवस्था / रोग

अर्थ : एक नेत्र रोग जिसमें पुतली के ऊपर सफेद दाग या छींटा सा पड़ जाता है।

उदाहरण : उसके आँख में फूला पड़ गया है।

पर्यायवाची : अर्म, ढेंढर, पुष्पक, फुल्ला, फूला, फूली

१०. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / समय / अवधि

अर्थ : वैशाख और आषाढ़ के बीच का महीना जो अंग्रेजी महीने के मई और जून के बीच में आता है।

उदाहरण : वह जेठ के कृष्ण पक्ष की दशमी को पैदा हुआ था।

पर्यायवाची : जेठ, ज्येष्ठ, ज्येष्ठ मास, ज्येष्ठमास, शुचि

११. संज्ञा / अवस्था

अर्थ : कृतज्ञ होने की अवस्था या भाव।

उदाहरण : संकट के समय जिस-जिसने राम की मदद की उन सबके प्रति उसने कृतज्ञता प्रकट की।

पर्यायवाची : आभार, एहसानमंदी, कृतज्ञता, शुक्रग़ुज़ारी, शुक्रगुजारी

१२. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / गुणधर्म

अर्थ : उपकार,अनुग्रह आदि के बदले में कृतज्ञता प्रकट करने का शब्द।

उदाहरण : मेरा काम करने के लिए धन्यवाद।

पर्यायवाची : धन्यवाद, शुक्रिया

शुक्र के संभावित विलोम शब्द :- अनर्थ, अनिष्ट, अभद्र, अशुचि, असित, कनिष्ठ, जल, जागना, दुष्ट, पराभव, पानी, मिट्टी, लौह

शुक्र के लिऐ अंग्रेजी भाषा के शब्द :- Vesper, castor bean plant, castor-oil plant, come, cum, ejaculate, gratitude, jeth, jyaistha, money, palma christ, palma christi, ricinus communis, seed, semen, seminal fluid, thanks, venus

शुक्र (विशेषण)

१. विशेषण / विवरणात्मक / गुणसूचक

अर्थ : जिसमें चमक हो या चमकीले रंग वाला।

उदाहरण : विवाह के अवसर पर रमेश चमकीले वस्त्र पहने हुए था।

पर्यायवाची : आबदार, आभास्वर, उजागर, चकाचक, चम चम, चमकता, चमकता-दमकता, चमकदार, चमकीला, चमचम, चमचमाता, चमाचम, चिलकता, चिलचिलाता, झकाझक, झमझम, झमाझम, दिव्य, द्युतिमत्, पानीदार, मनकरा

२. विशेषण / विवरणात्मक / गुणसूचक

अर्थ : जिसमें किसी प्रकार का मल या दोष न हो।

उदाहरण : वातावरण शुद्ध होना चाहिए ।
निर्मल मन से प्रभु को याद करो।

पर्यायवाची : अनाविल, अपंकिल, अमनिया, अमल, अमलिन, अम्लान, अवदात, इद्ध, चंगा, ताज़ा, ताजा, नफ़ीस, नफीस, निर्मल, पवित्र, पाक़ीज़ा, पाकीजा, पावित, प्रांजल, विमल, विशुद्ध, शुद्ध, साफ, साफ सुथरा, साफ-सुथरा, साफ़, साफ़-सुथरा, सित, स्वच्छ

शुक्र के संभावित विलोम शब्द :- अदिव्य, अपवित्र, अशुद्ध, असित, गँदला, गंदला, गंदा, गन्दा, दूषित, बासी, मलिन, मैला

शुक्र के लिऐ अंग्रेजी भाषा के शब्द :- bright, burnished, clean, fresh, lustrous, shining, shiny

मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।