सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से स्कंध शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

स्कंध (संज्ञा)

१. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : शरीर का वह भाग जो गले और बाहुमूल के बीच में होता है।

उदाहरण : हनुमान राम और लक्ष्मण को अपने दोनों कंधों पर बिठाकर सुग्रीव के पास ले गये।

पर्यायवाची : अंश, अंस, कंधा, काँधा, मुड्ढा, मोढ़ा, स्कन्ध

२. संज्ञा / भाग

अर्थ : तने का वह ऊपरी भाग जिसमें से डालियाँ निकलती हैं।

उदाहरण : वह स्कंध की मोटाई नाप रहा है।

पर्यायवाची : कांड, काण्ड, स्कन्ध

३. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / भाग

अर्थ : वृक्ष आदि के तने से इधर-उधर निकले हुए अंग।

उदाहरण : बच्चे आम की डालियों पर झूल रहे हैं।

पर्यायवाची : कांड, काण्ड, टेरा, डाल, डाली, शाख, शाख़, शाखा, शाला, शिफाधर, साख, साखा, स्कंधा, स्कन्ध, स्कन्धा

४. संज्ञा / अवस्था / भौतिक अवस्था
    संज्ञा / समूह

अर्थ : एक जगह पर उपस्थित एक से अधिक मनुष्य, पशु आदि जो एक इकाई के रूप में माने जाएँ।

उदाहरण : खेतों को पशुओं का समुदाय तहस-नहस कर रहा है।

पर्यायवाची : अवली, खेढ़ा, गण, गुट, गुट्ट, ग्रुप, घटा, जंतु समूह, जन्तु समूह, जात, झँडूला, झुंड, झुण्ड, दल, निकर, निकुरंब, निकुरम्ब, पलटन, पल्टन, फ़ौज, फौज, बेड़ा, माल, यूथ, वृंद, वृन्द, संकुल, संघात, संभार, सङ्कुल, सङ्घात, समुदाय, समूह, सम्भार, स्कन्ध

५. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / मानवकृति

अर्थ : चीज़ें, सामान आदि रखने का कमरा।

उदाहरण : भंडार घर में चूहों की भरमार है।

पर्यायवाची : कोठा, कोठार, कोठी, कोष्ठ, पुर, भंडार, भंडार कक्ष, भंडार कोष्ठ, भंडार गृह, भंडार घर, भंडारगृह, भंडारघर, भण्डार, स्कन्ध

६. संज्ञा / भाग

अर्थ : ग्रंथ का वह विभाग जिसमें कोई पूरा विषय होता है।

उदाहरण : श्री मद् भागवत पुराण में कुल बारह कांड हैं।

पर्यायवाची : कांड, काण्ड, स्कन्ध

७. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / प्राकृतिक वस्तु
    संज्ञा / निर्जीव / वस्तु / शारीरिक वस्तु

अर्थ : किसी प्राणी के सब अंगों का समूह जो एक इकाई के रूप में हो।

उदाहरण : शरीर को स्वस्थ रखने के लिए व्यायाम करें।

पर्यायवाची : अंग, अजिर, अवयवी, इंद्रियायतन, इन्द्रियायतन, कलेवर, काया, गात, चोला, जिस्म, तन, तनु, तनू, देह, धाम, पिंड, पिण्ड, पुद्गल, पुर, बदन, बॉडी, मर्त्य, योनि, रोगभू, वपु, वर्ष्म, वर्ष्मा, वेर, शरीर, सिन, स्कन्ध

८. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / कार्य / शारीरिक कार्य

अर्थ : शत्रुतावश दो दलों के बीच हथियारों से की जाने वाली लड़ाई।

उदाहरण : महाभारत का युद्ध अठारह दिनों तक चला था।

पर्यायवाची : अजूह, अनीक, अभेड़ा, अभेरा, अभ्यागम, आकारीठ, आजि, आयोधन, आहर, आहव, कंदल, जंग, पुष्कर, पैकार, प्रतिदारण, प्रसर, प्रहरण, भर, मृध, युद्ध, योधन, रण, लड़ाई, वराक, वाज, विशसन, वृजन, वृत्रतूर्य, संकुल, संग्राम, सङ्कुल, समर, स्कन्ध

९. संज्ञा / निर्जीव / वस्तु

अर्थ : राज्याभिषेक के समय काम आने वाली सामग्री।

उदाहरण : स्कंध का अवलोकन कर राजगुरु ने राज्याभिषेक प्रारंभ किया।

पर्यायवाची : स्कन्ध

१०. संज्ञा / सजीव / जन्तु / स्तनपायी / व्यक्ति
११. संज्ञा / सजीव / जन्तु / स्तनपायी / व्यक्ति

अर्थ : वह व्यक्ति जो विद्यार्थियों को पढ़ाता है।

उदाहरण : अध्यापक और छात्र का संबंध मधुर होना चाहिए।

पर्यायवाची : अध्यापक, आचार्य, आचार्य्य, उस्ताद, गुरु, गुरू, टीचर, पाठक, मास्टर, मुअल्लिम, वक्ता, शिक्षक, स्कन्ध

१२. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / कार्य / संप्रेषण
    संज्ञा / निर्जीव / घटना / सामाजिक घटना

अर्थ : राज्यों, दलों, आदि में होने वाला यह निश्चय कि अब हम आपस में नहीं लड़ेंगे और मित्रतापूर्वक रहेंगे अथवा अमुक क्षेत्रों में अमुक प्रकार से व्यवहार करेंगे।

उदाहरण : दो राज्यों के बीच समझौता हुआ कि वे एक दूसरे के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप नहीं करेंगे।

पर्यायवाची : अभिसंधि, अभिसन्धि, करार, क़रार, मुआहिदा, यति, संधि, सन्धि, समझौता, सुलह, स्कन्ध

१३. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / गुणधर्म

अर्थ : आर्या छंद का एक भेद।

उदाहरण : यह स्कंध का उदाहरण है।

पर्यायवाची : स्कन्ध

१४. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पक्षी

अर्थ : सफेद चील।

उदाहरण : पेड़ की डाल पर एक स्कंधमल्लक बैठा है।

पर्यायवाची : स्कंधमल्लक, स्कन्ध, स्कन्धमल्लक

१५. संज्ञा / निर्जीव / अमूर्त / ज्ञान

अर्थ : वह जिसे इन्द्रियाँ ग्रहण करें।

उदाहरण : नेत्र का विषय रूप व कान का विषय शब्द है।

पर्यायवाची : अजिर, अर्थ, इंद्रिय विषय, इंद्रियार्थ, इन्द्रिय विषय, इन्द्रियार्थ, पदार्थ, विषय, स्कन्ध

मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।