सांझा करें ट्विटर पर सांझा करें व्हाट्सएप पर सांझा करें फेसबुक पर सांझा करें
Google Play पर पाएं
हिन्दी शब्दकोश से स्वर्णचूड़ शब्द का अर्थ तथा उदाहरण पर्यायवाची एवं विलोम शब्दों के साथ।

स्वर्णचूड़ (संज्ञा)

१. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पक्षी

अर्थ : एक प्रकार की चिड़िया जिसका गला और पंख नीले होते हैं।

उदाहरण : दशहरे के दिन नीलकंठ देखना शुभ माना जाता है।

पर्यायवाची : कालकंठ, कालकण्ठ, चाल, चाष, चाषपक्षी, तोकक, नीलकंठ, पुण्यदर्शन, शकुंत, शकुन्त, स्वर्णचूड़क, स्वर्णशिख

कबुतराच्या आकाराचा, शेपटी आणि पंखांचा रंग सुरेख निळा असलेला एक पक्षी.

नीळकंठ बसला असता त्याचा पिसार गडद व मंद वाटतो.
चाश, चास, टटास, टाश्या, टास, टासल्या, तास, नीळकंठ
२. संज्ञा / सजीव / जन्तु / पक्षी

अर्थ : मुर्गी का नर।

उदाहरण : सुबह-सुबह मुर्गे की आवाज सुनकर मेरी नींद खुली।

पर्यायवाची : अरुणचूड़, अरुणशिखा, अरुनचूड़, अरुनशिखा, आत्मघोष, करंज, कुक्कुट, कुलंग, ताम्रचूड़, ताम्रशिखी, नखरायुध, निशावेदी, बरहा, बरही, मुरगा, मुर्गा, यामघोष, रक्तवर्त्मा, रसाखन, रात्रिवेद, वचर, शिखंडी, शिखण्डी, शिखी, शौंड, शौण्ड, स्वर्णचूड़क

चित्रविचित्र रंगाचा, डोक्यावर तुरा आणि गळ्याला कल्ले असलेला, शेपटीची पिसे लांब बाकदार असतात असा एक पाळीव पक्ष्यातील नर.

कोंबडा पहाटे आरवला
कुक्कुट, कोंबडा, कोंबडे

Adult male chicken.

cock, rooster
मुहावरे भाषा को सजीव एवं रोचक बनाते हैं। हिन्दी भाषा के मुहावरे यहाँ पर उपलब्ध हैं।